Rajasthan Weather Forecast: राजस्थान में मूसलाधार से हाड़ौती में बाढ़ के हालात, बीसलपुर बांध में आया 5 सेमी पानी

मानसून की मेहरबानी के चलते प्रदेश के तीन जिलों को पानी पिलाने वाले बीसलपुर बांध में भी लगातार पानी की आवक बनी हुई है। जिससे बांध का जलस्तर बढ़ रहा है। मौसम विभाग ने आगामी 5 दिनों तक प्रदेश के कई जिलों में मध्यम से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

राजस्थान में मूसलाधार से हाड़ौती में बाढ़ के हालात, बीसलपुर बांध में आया 5 सेमी पानी

जयपुर | राजस्थान में मानसून पिछले कई दिनों से अपने चरम पर दिखाई दे रहा है। जिसके चलते मेघ जमकर बरस रहे हैं। प्रदेश के कई जिले भारी बारिश की मार झेल रहे हैं। मानसून की मेहरबानी के चलते प्रदेश के तीन जिलों को पानी पिलाने वाले बीसलपुर बांध में भी लगातार पानी की आवक बनी हुई है। जिससे बांध का जलस्तर बढ़ रहा है। मौसम विभाग ने आगामी 5 दिनों तक प्रदेश के कई जिलों में मध्यम से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। राजधानी जयपुर में भी दो दिन से हल्की से मध्यम बारिश का दौर बना हुआ है। 

बीसलपुर बांध में आया 5 सेमी पानी
बीसलपुर बांध के कैचमेंट एरिया में हो रही बारिश से बांध में पानी आ रहा है। बीते दिन गुरूवार को भी कैचमेंट एरिया में अच्छी बारिश दर्ज की गई। जिससे बांध में 5 सेमी पानी की आवक हुई। इसके बाद बांध का जलस्तर बढ़कर 309.20 आरएल मीटर हो गया है। बता दें कि, बांध की कुल भराव क्षमता 38.70 टीएमसी है। बांध में जुलाई की शुरूआत से अबतक 1.5 टीएमसी पानी की आवक हो चुकी है। गौरतलब है कि, प्रदेश के टोंक जिले में बना बीसलपुर बांध तीन जिलों जयपुर, टोंक, अजमेर के लोगों की प्यास बुझाता है और खेतों की सिंचाई में इसका पानी काम आता है।

ये भी पढ़ें:- बारां में हादसा: मौसम का आनंद लेते हुए जलप्रपात पर नहा रहे थे जीजा-साला, अचानक गिरे नीचे और ...

हाड़ौती में मूसलाधार, गांवों में बाढ़ के हालात, घरों-कार्यालयों में घुसा पानी 
वहीं दूसरी ओर प्रदेश के हाड़ौती अंचल में मूसलाधार बारिश का दौर अभी भी जारी है। गुरूवार को भी कोटा संभाग के कई इलाकों में मूसलाधार बारिश ने जन-जीवन प्रभावित कर दिया। सुल्तानपुर, दीगोद में भारी बारिश से बाढ़ के हालात हो गए। घरों, स्कूलों, सरकारी दफ्तरों, अदालत जैसे स्थानों में पानी भर गया। गांवों की सड़कों पर 2-2 फीट तक पानी भर गया। दीगोद में तो 4-4 फीट पानी भरा हुआ है। अंता में 3 इंच से अधिक बारिश दर्ज की गई। वहीं, कोटा के किशनपुरा तकिया ग्राम पंचायत के नोटाणा गांव की पुलिया टूट गई। जिससे ग्रामीणों का कोटा से सम्पर्क कट गया। कोटा में 24 घंटे में 35.5 एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई। इसके अलावा अयाना थाना क्षेत्र के पालेश्वर महादेव मन्दिर के निकट बाणगंगा नदी पर बनी रपट पर बहने से एक युवक की मौत हो गई। 

ये भी पढ़ें:- CBSE 12th Result 2022: सीबीएसई 12वीं का परीक्षा परिणाम घोषित, इस बार भी लड़कियों ने लड़कों को पछाड़ा, ऐसे करें डाउनलोड

Must Read: ट्रेक्टर-बाइक की टक्कर में बाइक सवार युवक के पांव में हुआ था 3 जगह फैक्चर, हेडकांस्टेबल राजाराम प्रजापत ने इलाज कराना तो दूर धमकाकर भगाया

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :