Monsoon 2022: राहत की खबर! दक्षिण-पश्चिम मानसून की अंडमान निकोबार में एंट्री, कई जगहों पर भारी बारिश के आसार

भीषण गर्मी की मार झेल रहे देश के लोगों के लिए राहतभरी खबर है। सालभर के इंतजार के बाद दक्षिण-पश्चिम मानसून ने एक बार फिर से अंडमान निकोबार में दस्तक दे दी है। मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून (Monsoon 2022) सोमवार को अंडमान निकोबार द्वीप समूह की ओर बढ़ गया है।

राहत की खबर! दक्षिण-पश्चिम मानसून की अंडमान निकोबार में एंट्री, कई जगहों पर भारी बारिश के आसार

नई दिल्ली |  भीषण गर्मी की मार झेल रहे देश के लोगों के लिए राहतभरी खबर है। सालभर के इंतजार के बाद दक्षिण-पश्चिम मानसून ने एक बार फिर से अंडमान निकोबार में दस्तक दे दी है। मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून (Monsoon 2022) सोमवार को अंडमान निकोबार द्वीप समूह की ओर बढ़ गया है। इससे चार महीने के बरसात के मौसम की शुरुआत हो गई है। वहीं भीषण गर्मी की मार झेल रहे देश के उत्तर-पश्चिमी हिस्सों में भी मौसम में बदलाव आया है और आंधी-तूफान का दौर शुरू हो गया है। 

मौसम विभाग के मुताबिक, अंडमान निकोबार द्वीपों पर मानसून की शुरुआत भले ही एक दिन देरी से हुई है लेकिन दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के मजबूत होने के कारण अच्छी बारिश हो रही है। इससे पहले मौसम विभाग ने कहा था कि 15 मई को अंडमान निकोबार द्वीपों पर मानसून की एंट्री हो जाएगी।

ये भी पढ़ें:- ज्ञानवापी पर राजनीति! : महबूबा मुफ्ती बोलीं- वे हमारी मस्जिदों के पीछे पड़े हैं 'इनको मस्जिद में ही मिलता है भगवान ...

मौसम विभाग ने के अनुसार, दक्षिण पश्चिम मानसून के अगले 2-3 दिनों में दक्षिण बंगाल की खाड़ी के कुछ और हिस्सों, पूरे अंडमान द्वीप समूह और पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों में आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल बनी हुई हैं। इसी के साथ अगले 5 दिनों के दौरान लक्षद्वीप और उत्तरी तमिलनाडु तट पर चक्रवाती परिसंचरण की उपस्थिति से केरल, तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में कुछ स्थानों पर तेज हवाओं के साथ बारिश की संभावना है। इसके अलावा तमिलनाडु में बुधवार तक और अगले दो दिनों में लक्षद्वीप क्षेत्र और कर्नाटक में भी भारी बारिश की संभावना है।

ये भी पढ़ें:- ज्ञानव्यापी मस्जिद का सर्वे पूरा, शिवलिंग मिलने के बाद कोर्ट का आदेश, केवल 20 लोग ही कर सकेंगे नमाज अदा

तंदूर की तरह तप रहे उत्तरी-पश्चिमी हिस्से
आपको बता दें कि, भारत के उत्तरी-पश्चिमी हिस्से भीषण गर्मी की चपेट में है। यहां कई राज्यों में रिकॉर्ड तोड़ गर्मी पड़ रही है और तापमान 49 डिग्री तक पहुंच गया है। कई इलाके के तंदूर की तरह तप रहे हैं। सोमवार को राजस्थान के धौलपुर में अधिकतम तापमान 46.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। उत्तर प्रदेश के बांदा में रविवार को अधिकतम तापमान 49 डिग्री पहुंच गया। अब गर्मी की मार झेल रहे लोगों को जल्द से जल्द मानसून के आगे बढ़ते हुए अच्छी बारिश की उम्मीद है। 

ये भी पढ़ें:-Communal Tension: मध्य प्रदेश के नीमच में दो समुदाय आमने-सामने, तनाव के बाद गाड़ियों में तोड़फोड़ और आगजनी, धारा 144 लागू

Must Read: कोलकाता : अनुब्रत के रिश्तेदारों के चावल मिलों को किए गए भुगतान की सीबीआई कर रही जांच

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :