तिलिस्मी खजाने का लगा पता: अर्पिता के घर करोड़ों का खजाना, नोटों के 10 ट्रक भरने के बाद ईडी हुई रवाना

ईडी ने अर्पिता के एक दूसरे घर से नोटों का खजाना जब्त किया है, जिसमें ईडी के हाथ 15 करोड़ रूपये और करोड़ों के जेवरात लगे हैं। गौरतलब है कि, पश्चिम बंगाल में ममता दीदी सरकार में मंत्री रहे पार्थ मुखर्जी की गिरफ्तारी के बाद से नए-नए खुलासे हो रहे हैं। 

अर्पिता के घर करोड़ों का खजाना, नोटों के 10 ट्रक भरने के बाद ईडी हुई रवाना

कोलकाता ।  पश्चिम बंगाल में केंद्रीय एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय ने अर्पिता मुखर्जी के एक और तिलिस्मी खजाने का पता लगा लिया है। ईडी ने अर्पिता के बेलघरिया घर से नोटों का खजाना जब्त किया है, जिसमें ईडी के हाथ 29 करोड़ रूपये और करोड़ों के जेवरात लगे हैं। अर्पिता मुखर्जी के आवास से अब तक कुल 40 करोड़ रुपए बरामद हुए हैं।  गौरतलब है कि, पश्चिम बंगाल में ममता दीदी सरकार में मंत्री रहे पार्थ मुखर्जी की गिरफ्तारी के बाद से नए-नए खुलासे हो रहे हैं। 

तीन किलो सोना और 29 करोड़ कैश
सूत्रों के अनुसार, बुधवार को अर्पिता मुखर्जी के क्लब टाउन स्थित एक अपॉर्टमेंट में ईडी ने छापा मारा तो वहां भी भारी मात्रा में कैश मिला। जिसके बाद से अर्पिता के इस अभी घर पर अभी तक छापेमारी चल ही रही है। ईडी को यहां से 2000 और 500 रुपए के नोटों का खजाना छिपा मिला। जिसकी गिनती मशीन से करवाई जा रही है। 

ये भी पढ़ें:-  CWG 2022: राष्ट्रमंडल खेलों में भारतीय दल की ध्वजवाहक होंगी पीवी सिंधू, गुरूवार को होगी रंगारंग शुरूआत

ईडी से कहा- पार्थ चटर्जी ने रखे है रूपये
आपको बता दें कि, करोड़ कैश बरामद होने के बाद ईडी ने पार्थ मुखर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद ईडी की पूछताछ में अर्पिता मुखर्जी ने कई चौंकाने वाले राजों को उजागर किया। उसने कबूला कि उसके घर से बरामद रुपए पार्थ चटर्जी से जुड़े है। उसने ये भी बताया कि अगर ईडी उनके घर नहीं पहुंचती तो एक-दो दिन में इन करोड़ों रूपयों को कहीं खपाने की तैयारी थी।

ये भी पढ़ें:-  क्या आप ब्रेकिंग न्यूज सुनना चाहते हैं: ‘मिथुन दा’ ने TMC खेमे में मचाया हड़कंप, दावा करते हुए कहा- ‘दीदी’ के 38 विधायक BJP के संपर्क में

Must Read: सरकार ने 2363 भूमिहीन किसानों को आंवटित की 480 हेक्टेयर भूमि, सिरोही के 13 किसानों को मिला लाभ

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :