सियासी गलियारों में हड़कंप! : राजस्थान के गृह राज्य मंत्री के ठिकानों पर इनकम टैक्स का छापा, कई और नेताओं पर हो सकती है कार्रवाई

गहलोत सरकार में उच्च शिक्षा और गृह राज्य मंत्री राजेंद्र यादव के व्यापारिक ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापे मारे। कांग्रेस नेता के ठिकानों पर इनकम टैक्स की रेड से कांग्रेस के सियासी गलियारों में हड़कंप मच गया

राजस्थान के गृह राज्य मंत्री के ठिकानों पर इनकम टैक्स का छापा, कई और नेताओं पर हो सकती है कार्रवाई

जयपुर | राजस्थान में भी आयकर विभाग नेे नेताओं-व्यापारियों  पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। आज बुधवार को राज्य की गहलोत सरकार में उच्च शिक्षा और गृह राज्य मंत्री राजेंद्र यादव के व्यापारिक ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापे मारे। कांग्रेस नेता के ठिकानों पर इनकम टैक्स की रेड से कांग्रेस के सियासी गलियारों में हड़कंप मच गया है। राजेंद्र यादव के जयपुर, कोटपुतली, दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तराखंड समेत कई अन्य व्यापारिक ठिकानों पर इनकम टैक्स विभाग ने कार्रवाई को अंजाम दिया।

कई और नेताओं पर हो सकती है कार्रवाई
राजेंद्र यादव राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी के करीबी माने जाते हैं। सू़त्रों के अनुसार राजस्थान में आयकर विभाग के रडार पर कई बड़े कारोबारी, बिल्डर और शिक्षण सेवाओं से जुड़े लोग शामिल है, जिन पर आने वाले दिनों में कार्रवाई की जा सकती है।

ये भी पढ़ें:- Congress Bharat Jodo Yatra: कन्याकुमारी से कश्मीर तक कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का आगाज, राहुल गांधी ने दिखाई हरी झंडी, 150 दिनों में होगी पूरी

बड़ी काली कमाई उजागर होने की संभावना
सूत्रों के मुताबिक, जयपुर सहित कई अल्य जगहों पर 300 से ज्यादा आयकर अधिकारियों और कर्मियों ने छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दिया हैं। आयकर विभाग की टीमें कारोबारी के बैंक लॉकर्स खोलने की भी तैयारी में हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि इस कार्रवाई के बाद बड़ी काली कमाई सामने आ सकती है।

ये भी पढ़ें:- बच्चों का सवरेगा भविष्य: ‘पीएम श्री’ योजना को मोदी कैबिनेट की हरी झंडी, स्कूलों की होगी कायापलट

कार्रवाई से भड़के मंत्री बोले- हम स्वच्छ राजनीति और साफ-सुथरा व्यापार करते हैं
इनकम टैक्स की कार्रवाई का विरोध जताते हुए गृह राज्य मंत्री राजेंद्र यादव ने कहा है कि, उनका और उनके परिवार का किसी भी पॉलिटिकल फंडिंग से कोई लेना-देना नहीं है, अगर उनको और उनके परिवार को टारगेट करके कार्रवाई की जाएगी तो वे उसका मुकाबला करेंगे। मंत्री राजेंद्र यादव ने बताया कि, उनके पिता 1950 से व्यापार करते आ रहे हैं। राजनीति में आने से पहले वे भी व्यापार ही करते थे और अब उनके बच्चे व्यापार को आगे बढ़ा रहे हैं। उन्होंने कहा कि, वे स्वच्छ राजनीति करते हैं और साफ-सुथरा व्यापार करते हैं।

Must Read: मूंग, उड़द एवं सोयाबीन की 1 नवम्बर से होगी खरीद, रजिस्ट्रार ने कहा रबी फसली ऋण वितरण में गति लाएं

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :